यूपी बोर्ड एग्जाम में नकल के कुख्यात जिले अब भी बने चुनौती, उड़ाका दल को खोजे नहीं मिल रहे नकलची - SARKARI RESULT | सरकारी रिजल्ट UP | SARKARI RESULT IN HINDI | SARKARI RESULT UP

23 February, 2018

यूपी बोर्ड एग्जाम में नकल के कुख्यात जिले अब भी बने चुनौती, उड़ाका दल को खोजे नहीं मिल रहे नकलची

यूपी बोर्ड एग्जाम में नकल के कुख्यात जिले अब भी बने चुनौती, उड़ाका दल को खोजे नहीं मिल रहे नकलची:-

इलाहाबाद : यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले जौनपुर में प्रिटिंग प्रेस पकड़ी गई, पहले दिन ही इलाहाबाद में एसटीएफ ने बड़ी कार्रवाई की। बलिया में कुछ परीक्षा केंद्रों पर बाहर से नकल कराने वाले खिड़कियों तक पहुंचे। वहीं, अलीगढ़ में पूर्व दारोगा अपने बेटे की उत्तर पुस्तिका खेत में लिखते सामने आया है। यह सारे जिले पिछले वर्षो में नकल कराने के लिए कुख्यात रहे हैं और इस बार तमाम सख्ती के बाद भी नकल कराने का कोई मौका छोड़ नहीं रहे हैं।
परीक्षाओं को चुनिंदा जिले ही दागदार कर रहे हैं। उन पर प्रशासनिक अफसर अंकुश लगाने में कामयाब नहीं हो पा रहे हैं। इन्हीं घटनाओं की वजह से समूची परीक्षा पर सवाल उठ रहे हैं। बोर्ड प्रशासन ने पिछले दिनों चंदौली जिले में दो विषयों विषयों व अन्य कई जिलों में नकल की सूचना मिलने पर कड़ी कार्रवाई की है। इसके बाद भी घटनाएं थम नहीं रही हैं। इसकी एक अहम वजह स्थानीय पुलिस व प्रशासनिक अफसरों की अनदेखी हैं। यही नहीं अब भी बोर्ड मुख्यालय को जिलों से नकल होने की रिपोर्ट आ रही हैं। उन केंद्रों की परीक्षा निरस्त करने की तेजी से की जा रही है। 1गलत पेपर खुलने के मामले बढ़े 1बोर्ड परीक्षा में इस बार गलत पेपर खुलने की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। केंद्र व्यवस्थापक व कक्ष निरीक्षक ने हड़बड़ी में समय से पहले ही पेपर खोल दिए। इसलिए तमाम जिलों में या तो परीक्षा निरस्त करनी पड़ी है या जिन जिलों से समय पर सूचना मिली, वहां दूसरा पेपर भेजा गया है। यह इसलिए संभव हो सका क्योंकि सीसीटीवी कैमरे से निगरानी हो रही थी। पिछले वर्षो में ऐसी घटनाएं स्थानीय स्तर पर दब जाती रही हैं। मथुरा व कई अन्य जिलों में दूसरे दिन कैमरे के कारण ही गलत पेपर ओपनिंग की पुष्टि हो पाई।