Breaking

Sunday, June 18, 2017

टीचर्स भर्ती रद्द करने का जारी आदेश निकला फर्जी, बीटीसी अभ्यर्थियों में भ्रम की स्थिति हुई पैदा: संजय सिन्हा ने संबंधित आदेश को बताया निराधार

टीचर्स भर्ती रद्द करने का जारी आदेश निकला फर्जी, बीटीसी अभ्यर्थियों में भ्रम की स्थिति हुई पैदा: संजय सिन्हा ने संबंधित आदेश को बताया निराधार:-

इलाहाबाद : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 12460 सहायक अध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया रद्द करने के निवर्तमान बेसिक शिक्षा सचिव अजय कुमार सिंह के नाम से 14 जून की तारीख में जारी फर्जी आदेश से अभ्यर्थियों में हड़कंप मचा है। फेसबुक और व्हाट्सएप पर वायरल निरस्तीकरण के फर्जी आदेश के बाद से इस भर्ती के लिए आवेदन करने वाले 53 हजार से अधिक बीटीसी अभ्यर्थियों में भ्रम की स्थिति पैदा हो गई है। 
हालांकि बेसिक शिक्षा परिषद के मौजूदा सचिव संजय सिन्हा ने संबंधित आदेश को निराधार बताया है। सचिव का कहना है कि ऐसा कोई आदेश जारी नहीं हुआ है। निवर्तमान सचिव अजय कुमार सिंह का तबादला 19 मई को हो गया था। ऐसे में 14 जून को उनके नाम से आदेश जारी होने का कोई मतलब नहीं है। इस भर्ती के लिए दिसंबर 2016 में प्रक्रिया शुरू हुई थी। 12460 शिक्षकों की भर्ती के लिए 18 से 20 मार्च तक पहली काउंसिलिंग कराई गई लेकिन 23 मार्च को भाजपा सरकार ने अन्य के साथ ही शिक्षकों की इस भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगा दी थी। तब से आवेदक प्रक्रिया आगे बढ़ने का इंतजार कर रहे हैं। सैकड़ों अभ्यर्थियों ने चार जून को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आने पर सर्किट हाउस के सामने प्रदर्शन भी किया था। संगम में डूबने से मृत एक अभ्यर्थी की लाश रखने पर पुलिस ने बेरोजगारों पर लाठियां बरसाई थीं। सीटीईटी-17 का फर्जी नोटिफिकेशन किया अपलोड इलाहाबाद। कुछ वेबसाइट्स ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से आयोजित होने वाली केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) का फर्जी नोटिफिकेशन अपलोड कर दिया है। फर्जी नोटिफिकेशन में जुलाई में परीक्षा कराए जाने की बात कही गई है जबकि सीटीईटी के निदेशक ने 14 जून के पत्र में ऐसा कोई नोटिफिकेशन जारी होने से इनकार किया है।

No comments:

Post a Comment